Thursday, January 1, 2009

सचमुच क्या कारटून बनाते हैं पवन जी, दाद देनी होगी

रविश जी ने बिहार के आरके लक्ष्मण कारटूनिस्ट पवन भैया के बारे में इतनी तारीफ कर दी कि उंगलिया रुकी नहीं और टिपियाने को ललक पड़ी। सचमुच क्या कारटून बनाते हैं पवन जी, दाद देनी होगी। हम लोग भी यहां अपने आफिस में पवन के कारटून पर करीब-करीब हर दिन चरचा किये बिना नहीं रहते। देसी भाषा और सहज बोली पवन जी के कारटून की शैली हैं। ये सीधे आपकी आत्मा को छूती है। हां, अगर आक्सीजन चाहिए, तो कुछ नहीं, बस पवन जी के कारटून को देख लिजिये। मजा आ जायेगा। आगे क्या कहें। वैसे पवन जी के कारटून को देखना है, तो चुनावी मौसम का इंतजार करिये, तब देखिये अपने कारटून से पवन जी क्या कमाल दिखाते हैं? पवन जी के कारटून को देखकर हर गरीब-अमीर बस हंसते हुए गंभीर विषयों को समझ जाता है। अगर कोई गंभीर बात हो और सरकार नहीं समझ रही, तो फिर पवन जी उसे कारटून के जरिये ऐसा पेश करते हैं कि दिल बाग-बाग हो जाता है। सचमुच पवन जी का जवाब नहीं है। लालू जी तो वैसे ही लोकप्रिय हैं, ऊपर से पवन जी के कारटून ने उन्हें और लोकप्रिय बना दिया। अब तो समाचार सुनने को मिला है कि एनिमेशन फिल्म की भी तैयारी है। क्या बात है? तरक्की करते रहिये पवन जी, हमारी ओर से बहुत-बहुत बधाई

No comments:

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

अमर उजाला में लेख..

अमर उजाला में लेख..

हमारे ब्लाग का जिक्र रविश जी की ब्लाग वार्ता में

क्या बात है हुजूर!

Blog Archive