Sunday, January 4, 2009

ठेंगा दिखानेवाले पाकिस्तान का अंगूठा ही काट डालो

कहा जाता है, आफेंस इज द बेस्ट डिफेंस। लेकिन हमारे यहां इसे भूलकर सिफॆ भौंकने का सिलसिला जारी है। बस बहुत हुआ। अब तो पाकिस्तान ने अमेरिकी सबूत को भी ठेंगा दिखा दिया है। इसके बाद अब क्या कर लेंगे? फिर किसी देश का सहारा लेंगे, शायद ब्रिटेन या फ्रांस। वक्त आ गया है-सुधरो, सुधारो और खुद को मजबूत करो। बातें कम हों और काम ज्यादा हो। एसी रूम में गद्दे पर बैठकर पाकिस्तान को हड़काने से वह हड़कनेवाला नहीं है। उसे हर हाल में उसकी औकात बतानी होगी। लोहे को लोहा काटता है कि तजॆ पर भारत भी वैसी ही नीतियां अख्तियार करे, नहीं तो बस हम सिफॆ भौंकते रह जायेंगे। वक्त आ गया है कि हम लोगों को ठेंगा दिखाते रहनेवाले पाकिस्तान का अंगूठा ही काट डाला जाये, जिसस वह कभी नहीं ठेंगा दिखा पाये। साथ ही अकड़ भी जमीन के अंदर दफन हो जाये, हमेशा की तरह। आज ज्यादा नहीं लिखना है,बस यही कहना है कि भारत हर उस चीज का हम इस्तेमाल करे, जो पाकिस्तान को उसकी औकात बताने के लिए चाहिए।

3 comments:

प्रकाश बादल said...

ठीक कहा आपने पाकिस्तान को सबक तो सिखाना ही होगा और रही अमेरिका की बात, तो अमेरिका तो है ही स्वार्थी देश वो अपने हितों के लिए किसी भी घटिया हरकत पर आ सकता है। आपको नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं

Amit said...

ठीक कहा आपने...

intelligence said...

mulberry purse
mulberry purses
discount mulberry
chloe bag
chloe paddington

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
There was an error in this gadget
There was an error in this gadget

अमर उजाला में लेख..

अमर उजाला में लेख..

हमारे ब्लाग का जिक्र रविश जी की ब्लाग वार्ता में

क्या बात है हुजूर!

Blog Archive