Tuesday, January 6, 2009

जिंदगी के हर पहलू को देख गये गौतम

कभी न्यूजपेपर की हेडलाइंस बन गये आइएएस अधिकारी गौतम गोस्वामी की मौत की खबर सुनकर सब हैरत में हैं। एक युवा अधिकारी, जो डॉक्टर होते हुए, प्रशासनिक सेवा में आया। वे २००४ में टाइम्स मैगजीन द्वारा यंग एशियन अचीवर एवाडॆ से नवाजे जाने के बाद एक आदशॆ बन गये थे। बाद में फिर बाढ़ राहत घोटाले मामले में भी उनका नाम आया। काफी विवाद हुए। गौतम गोस्वामी को हम व्यक्तिगत रूप से नहीं जानते। लेकिन इतना जानते हैं कि उनके व्यक्तित्व से एक पोजिटिव एनरजी मिलती थी। उन्होंने पटना में अपनी प्रशासनिक पारी के दौरान अपने कामों के कारण काफी नाम बटोरा। १९९१ बैच के आइएएस आफिसर डॉ गौतम गोस्वामी ने यूपीएससी की परीक्षा में सातवां स्थान प्राप्त किया था। बीएचयू से गोल्ड मेडल के साथ पीजी (मेडिसीन) किया था। दो शब्दों में तेजी, प्रतिभा और जुझारू व्यक्तित्व के धनी गौतम सबको प्रभावित करते थे। कुछ दिनों से वे अपने मेडिकल नॉलेज का उपयोग एड्स मरीजों को निःशुल्क राय देने में कर रहे थे। डॉ गोस्वामी पैंक्रियाज कैंसर से पीड़ित थे। हाल ही में उनकी किडनी ने काम करना बंद कर दिया था। ज्यादा कुछ नहीं, बस इतना कुछ कहना चाहूंगा कि काफी कम समय में गौतम गोस्वमी ने जिंदगी के हर पहलू को देख और जान लिया था।

2 comments:

Gyan Dutt Pandey said...

बड़ी उतार चढ़ाव की जिन्दगी रही इस सज्जन की। दुखद।

sticker said...

fendi bag
fendi hand bag
fendi spy bag
fendi bags
dolce gabbana

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

अमर उजाला में लेख..

अमर उजाला में लेख..

हमारे ब्लाग का जिक्र रविश जी की ब्लाग वार्ता में

क्या बात है हुजूर!

Blog Archive